कुंडली मे मेडिकल लाइन कैसे देखें ? How to predict medical line in horoscope?

0 214

(आज हम मेडिकल लाइन के बारे में चर्चा करेंगें । 10 वीं परीक्षा के बाद छात्र के पास 2 विकल्प होते हैं । विज्ञान की लाइन चुने की आर्ट्स/कॉमर्स को चुुने ? यदि विज्ञान चुनते है तो 2 ऑप्शन आते है। या तो A ग्रुप में जाये या B ग्रुप का चुनाव करे । और माता-पिता के पास भी कोई स्पष्ट आईडिया नहीं है कि उनके बच्चे के लिए क्या करना श्रेष्ठ है । सिर्फ ज्योतिषशास्त्र ही सही दिशा दिखा सकता है। )

आज हम बच्चे की कुुंडली में ये देखेंगे कि कौन डॉक्टर हो सकता है और कौन पैरा मेडिकल लाइन में जा सकता है। इसके अलावा हम ये भी चर्चा करेंगे कि एमबीबीएस (डॉक्टर) बीएएमएस (आयुर्वेदज्ञ या वैद्य डिग्री) बीएचएमएस (होमियोपैथ) या बीडीएस मैं से किसका चुनाव करे ।

हमेशा याद रखना, मेडिकल लाइन में, हमें 6 ठ्ठा घर ध्यान में रखना होगा क्योंकि 6 ठ्ठा घर रोगों, मरीजों, दवाइयों और स्वास्थ्य क्षेत्र से जुड़ा हुआ है ।

अब हम मेडिकल लाइन में जाने के लिए मुख्य नियम के उपर चर्चा करेंगे।

सबसे पहले हम मेडिकल लाइन के संदर्भ में शुक्र के बारे में कुछ बात करेेंगे । शुक्र पौराणिक कथाओं में शुक्राचार्य के नाम से जाने जाते है । शुक्राचार्य ने ऐसी ‘ मृत संजीवन विद्या’ को प्राप्त किया था कि वह उन सभी राक्षसों को नया जीवन दे रहे थे जो युद्ध में मारे गए थे।

शुक्र औषधि यानी दवाओं का अदभुत ज्ञान देते हैं । वह चमत्कार कर सकते है । शुक्र धन्वंतरी या अश्विनीकुमार का प्रतिनिधित्व करते हैं ।

  1. शुक्र या तो लग्न मे हो या तो लग्नेश के साथ हो। या तो वृषभ या तुला लग्न मेंं जन्म हो या तो लग्नेश वृषभ या तुला में हो ।
    अगर ऐसा ना हो तो कम से कम शुक्र 6th हाउस मे हो, 12th हाउस में हो या तो 6th हाउस के मालिक के साथ हो या तो 6th हाउस का मालिक वृषभ या तुला राशि मे हो । इस तरह पहले या 6 वें घर के साथ शुक्र का या वृषभ तुला का कनेक्शन हुआ तो एक सफल डॉक्टर बनने के सभी गुण बच्चे में है ऐसा समझना ।
  2. 6ठ्ठे घर का मालिक आठवें भाव में, बारहवें भाव में, दूसरे भाव में, दशवें स्थान में या तो ग्यारहवें भाव में होना चाहिए।
  3. 6ठ्ठे घर का मालिक यदि (शून्य) या 29 डिग्री का हो । यह डिग्री ग्रह को जबरदस्त चुंबकीय ताकत देती है।
  4. 6ठ्ठे घर का मालिक या तो किसी भी घर में उच्च रााशि का हो या नीच राशि का हो ।

अगर ऊपर बताये 2 से 4 नंबर के नियमों में से कोई भी एक नियम लागु होता हो तो निस्संदेह मेडिकल लाइन के लिए विकल्प चुनें।

मेडिकल लाइन एक ऐसा क्षेत्र है जिसमें व्यक्ति को अपने काम के लिए अधिकतम समय समर्पित करना पड़ता है और डॉक्टर २४ घंटे समाज को समर्पित है और अपने निजी पारिवारिक जीवनका भी थोड़ा बलिदान करना पडता है। शनि सेवा का ग्रह है इसलिए सूर्य या चंद्र या लग्न के साथ शनि का संबंध होना चाहिए। (ज्यादातर चार्ट में मैंने देखा है कि शनि सूर्य या चंद्र से बहुत करीब की डिग्री से जुड़ा हुुआ है और यदि नहीं तो शनि लग्न या चौथे या सातवां घर में देखा गया है।)

मंगल/केतु का शीघ्र परिणाम से संबंध है और इसी लिए एलोपैथी और शस्त्रक्रिया / सर्जरी से उसका संबंध है ।

शुक्र और शनि का आयुर्वेद के साथ संबंध है। शुक्र जीव विज्ञान का ग्रह है । विभिन्न औषधि, पेड़ पौधे, पारद और रसविद्या से शुक्र का संबंध है । शनि मीत आहार औऱ अनुुशासन से जुड़ा है और पुरानी चिकित्सा पसंद करते हैं ।

राहु चमत्कारों का ग्रह है, सूक्ष्म या अतिसूक्ष्म स्तर पर काम करता है, इसलिए बलवान राहु लग्न में या 6th हाउस में या 10th में हो या छठे के स्वामी के साथ हो तो होमेओपेथी अच्छा चयन हैै ।

Related Articles

दंत चिकित्सा क्षेत्र दूसरे घर के साथ जुड़ा हुआ है, यदि लग्नेश या 6th हाउस का स्वामी दूसरे भाव में हैं और अगर दूसरा भाव मजबूत है तो BDS बेहतर है।

एक और बात मैं यहां बताना चाहूंगा कि एमबीबीएस लाइन की फीस बहुत ज्यादा होती है और सभी माता-पिता 5 वर्ष के पूर्ण पाठ्यक्रम के लिए लाखों रुपये खर्च नहीं कर सकते। कभी ऐसा भी होता है की छात्र बहुत होशियार और रैंकर होता है लेकिन 12 वीं परीक्षा के समय खराब गोचर या दशा के कारण 80/85 से नीचे मार्क्स आते हैं इसलिए उन्हें बीडीएस या बीएएमएस या बीएचएमएस या फिजियोथेरेपी का विकल्प चुनना होता है ।

डेंटल सर्जन और फिजियोथेरपिस्ट की मांग विदेशी देशों में बहुत अधिक है, इसलिए जिन छात्रों को विदेशों में रहने की इच्छा होती है वो ज्यादातर डेंटल या फिजियोथेरेपी पसंद करते हैं ।

यदि मंगल ग्रह शुुक्र से जुड़ा होता है तो रसायन विज्ञान और फार्माक्यूटिकल में विशेष रस होता हैं, इसलिए डॉक्टर बनना कम प्रतिशत या भारी खर्च के कारण संभव नहीं है, तो फिर फार्मास्युटीकल अच्छी लाइन हैंं ।

कुंडली को देख कर सर्जिकल या नॉन सर्जिकल लाइन में जाना वह भी हम देख सकते हैं ।

एमबीबीएस करने के बाद रेडियोलॉजी, पेडियाट्रिक, स्किन, ऑप्थलमोलोजी, गाइनेकोलॉजी, कार्डियोलॉजी, ऑर्थोपेडिक, न्यूरोलॉजी या नेफ्रोलॉजी में जाना वह भी हम कुंडली से देख सकते हैं ।

(Today we will discuss about medical line. Student have 2 options after 10th exam. Science Line Choose Arts/Commerce? If Science chooses there are 2 options. Either go to A group or choose B group. And even parents have no clear idea what’s best for their child. Only astrology can show the right direction. )

Today in the horoscope of the child we will see who can be a doctor and who can go to para medical line. Also we will discuss which one to choose between MBBS (Doctor) BAMS (Ayurvedic or Medical Degree) BHMS (Homeopath) or BDS.

Always remember, in the medical line, we must keep the 6th house in mind because the 6th house is linked to diseases, patients, medicines and health sector.

Now we will discuss the main rule to get into the medical line.

First of all we will talk about Venus in reference to medical line. Venus is known as Shukracharya in mythology. Shukracharya had received such a ‘dead Sanjeevan Vidya’ that he was giving new life to all the demons who were killed in war.

Venus gives wonderful knowledge of medicine means medicines. He can perform miracles. Venus represent Dhanwantari or Ashwini Kumar.

  1. Venus is either in marriage or with Lagnesh. Either Vrishabh or Libra born in marriage or Lagnesh Trishabh or in Libra.
    If this does not happen, then at least Venus should be in 6th house, be in 12th house, either with the owner of 6th house or the owner of the 6th house should be in Taurus or Libra. If there is a connection between Venus or Taurus Libra with the first or 6th house, then understand that the child has all the qualities of becoming a successful doctor.
  2. The owner of the 6th house should be in eighth rate, twelfth price, second rate, tenth place or eleventh rate.
  3. 6th house owner if (zero) or 29 degrees. This degree gives tremendous magnetic power to the planet.
  4. The owner of the 6th house is either of high or low zodiac signs in any house.

If any one of the rules between 2 to 4 number above applies, then definitely opt for the medical line.

Medical line is a field where a person has to dedicate maximum time for his work and doctor is dedicated 2 hours to the society and also sacrifice little of his personal family life. Saturn is the planet of service so Saturn should have connection with Sun or Moon or Lagna. (In most charts I have seen that Saturn is very close to the Sun or Moon and if not Saturn is seen in the lagna or the fourth or seventh house. )

Mars/Ketu has to do with prompt results and therefore has to do with allopathy and surgery/surgery.

Venus and Shani have a relationship with Ayurveda. Venus is the planet of biology. Venus has connection with various medicines, trees, mercury and chemistry. Saturn meat is related to diet and discipline and prefer old medicine.

Rahu is planet of wonders, works on micro or superficial level, so strong Rahu is in lagna or in 6th house or 10th or with Swami of sixth then homeopathy is a good choice.

The dental sector is linked to second home, if lagnesh or 6th house owner is in second price and if second sentence is strong then BDS is better.

Another thing I would like to point here is that MBBS line fees are very high and not all parents can spend millions of rupees for a 5 year full course. Sometimes it happens that student is very smart and ranker but during 12th exams due to poor transmission or condition marks below 80/85 so they have to choose BDS or BAMS or BHMS or Physiotherapy.

The demand for dental surgeons and physiotherapists is high in foreign countries, so students who wish to stay abroad prefer dental or physiotherapy.

If Mars is associated with Venus there is special juice in chemistry and pharmacuticals, so becoming doctor is not possible due to low percentage or heavy expenses, then pharmaceuticals are good line.

Looking at the horoscope, going into the surgical or non-surgical line, we can also see that.

After doing MBBS, going to radiology, pediatric, skin, opthalmology, gynecology, cardiology, orthopedic, neurology or Nephrology, we can also see from horoscope.

Leave a Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More